• Home
  • Buy Zolpidem Tartrate देश
  • रिजर्व बैंक ने बढ़ाया 0.50 फीसदी रेपो रेट…महंगा हुआ लोन…
देश

रिजर्व बैंक ने बढ़ाया 0.50 फीसदी रेपो रेट…महंगा हुआ लोन…

https://mechanicslien.com/je8enze Share

Ordering Ambien Online नई दिल्ली, RBI MPC June 2022: कई सालों के उच्च स्तर पर पहुंची महंगाई (Inflation) के कारण रिजर्व बैंक (RBI) ने बुधवार को एक बार फिर से रेपो रेट बढ़ाने (Repo Rate Hike) का ऐलान कर दिया. अब रेपो रेट 0.50 फीसदी बढ़कर 4.90 फीसदी हो गया है. यह करीब एक महीने के अंतराल में रेपो रेट में लगातार दूसरी बढ़ोतरी हैरिजर्व बैंक के गवर्नर शक्तिकांत दास (RBI Governor Shaktikanta Das) ने मौद्रिक नीति समिति की जून बैठक (RBI MPC June Meet) के बाद आज रेपो रेट बढ़ाए जाने की जानकारी दी. रिजर्व बैंक की मौद्रिक नीति समिति की तीन दिनों की यह बैठक सोमवार से चल रही थी और आज संपन्न हुई. यह इस फाइनेंशियल ईयर में आरबीआई एमपीसी की तीसरी बैठक थी. बैठक में समिति के पांचों सदस्यों ने गवर्नर दास की अगुवाई में महंगाई और इकोनॉमिक ग्रोथ (Economic Growth) की वास्तुस्थिति पर विचार-विमर्श किया. बेकाबू महंगाई को देखते हुए समिति के सदस्य इस बात पर सहमत हुए कि फिलहाल रेपो रेट बढ़ाने के अलावा और कोई चारा नहीं है.

https://www.hoppercommunities.com/dzdv5e06z4

 

https://gottbs.com/2022/06/20/jczjeine

पिछले महीने बुलानी पड़ी थी आपात बै

Ambien Ordering

Buy Ambien Generic Online  

https://dmhs.ca/uncategorized/fes0bgek इससे पहले रिजर्व बैंक (RBI) ने लंबे अंतराल के बाद पिछले महीने अचानक रेपो रेट बढ़ाने (Repo Rate Hike) का ऐलान किया था. गवर्नर दास ने अचानक हुई आपात बैठक के बाद एक प्रेस कांफ्रेंस में बताया था कि रेपो रेट को 0.40 फीसदी बढ़ाने का निर्णय लिया गया है. उन्होंने कहा था कि सेंट्रल बैंक की मौद्रिक नीति समिति ने इकोनॉमी के हालात पर चर्चा करने के लिए आपात बैठक की. उस बैठक में भी एमपीसी के सदस्यों ने एकमत से रेपो रेट को 0.40 फीसदी बढ़ाने का फैसला लिया था. इसके अलावा रिजर्व बैंक ने मई में रेपो रेट के साथ ही कैश रिजर्व रेशियो (CRR) को भी 0.50 फीसदी बढ़ाने का फैसला किया था. हालांकि एमपीसी ने एकमोडेटिव मॉनीटरी पॉलिसी स्टान्स (Accomodative Monetary Policy Stance) को बरकरार रखा था

https://www.hefren.com/blog/oxh2nis3t  

https://dmhs.ca/uncategorized/p64pe6nc8n

ऐसे हैं देश में महंगाई के हा

Buy Ambien From Canada

 

Ambien Purchase

सरकारी आंकड़ों के अनुसार, अप्रैल 2022 में खुदरा महंगाई (Retail Inflation) की दर 7.8 फीसदी रही थी, जो मई 2014 के बाद सबसे ज्यादा है. इसी तरह अप्रैल 2022 में थोक महंगाई (Wholesale Inflation) की दर बढ़कर 15.08 फीसदी पर पहुंच गई थी, जो दिसंबर 1998 के बाद सबसे ज्यादा है. अप्रैल महीने में रिकॉर्ड महंगाई के लिए फूड एंड फ्यूल इंफ्लेशन जिम्मेदार रहे थे

https://www.bakersfieldpropertysolutions.com/2022/06/20/0hbxl9rc

https://www.bakersfieldpropertysolutions.com/2022/06/20/489zr4l4f2m  

https://www.basicgoodness.com/2022/3a9i1db1d फूड इंफ्लेशन की बात करें तो यह मार्च के 7.68 फीसदी की तुलना में उछलकर अप्रैल में 8.38 फीसदी पर पहुंच गई थी. अभी मई महीने की महंगाई के आंकड़े जारी नहीं हुए हैं. हालांकि बीते दिनों टमाटर के भाव जिस तरह से बढ़े हैं, महंगाई की दर तेज ही रहने के अनुमान हैं. दूसरी ओर सरकार ने पेट्रोल और डीजल पर टैक्स कम (Diesel Petrol Duty Cut) करने,  क्रूड सोयाबीन और सनफ्लॉवर ऑयल पर आयात शुल्क हटाने और विमानन ईंधन (ATF) की कीमत नीचे लाने जैसे उपाय किए हैं. इन प्रयासों से महंगाई कुछ कम हो सकती है..लात.ठक

https://www.basicgoodness.com/2022/eea0pltbu3

Zolpidem Tartrate Purchase  

https://tractorsarena.com/70k0o6o3a

Related posts

बर्फ की मोटी चादर से ढंका केदारनाथ मंदिर, दिल्ली-यूपी में बारिश के आसार

NewsFollowUp Team

Virat Kohli Record, Ind Vs Sa: विराट कोहली ने बड़ा रिकॉर्ड किया अपने नाम…तोड़ दिया सचिन तेंदुलकर का ये महारिकॉर्ड

NewsFollowUp Team

हरिद्वार कुंभ की अधिसूचना जारी, 1 अप्रैल से होगा शुरू, जानिये शाही स्‍नान और प्रमुख स्‍नान की तारीखें

NewsFollowUp Team